Homeबिज़नेसकिसानों के लिए बनेगा ये बिजनेस बंपर कमाई जरिया, जाने बिजनेस करने...

किसानों के लिए बनेगा ये बिजनेस बंपर कमाई जरिया, जाने बिजनेस करने का बेस्ट तरीका

किसानों के लिए बनेगा ये बिजनेस बंपर कमाई जरिया, जाने बिजनेस करने का बेस्ट तरीका, आजकल का युवावर्ग अपने खुद के बिजनेस में यकींन रखता है। आज हम आपके लिए ऐसा बिजनेस लेकर आए है जो आपको घर बैठे लाखों रूपए कमा कर देगा। हम जिस बिजनेस की बात कर रहे है उस बिजनेस का नाम है लूफा का बिजनेस। यह एक ऐसा बिजनेस है जो आपको घर बैठे कमाई देगा। लूफा एक ऐसी चीज है जिसे हम ख़राब सब्जियों से भी बना सकते है। आइए जाने इस बिजनेस के बारे में विस्तार से –

यह भी पढ़े: कर्नाटक चुनाव से पहले मोदी का बेंगलुरु में बड़ा रोड शो, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया भी कर्नाटक के चुनावी रण में उतारेगी

लूफा का उपयोग

कबाड़ से कलाकारी: सूखी तोरई से बनाइये चमचमाते झूमर या लैंप

पुराने ज़माने से लेकर आज के ज़माने तक लोग आज भी लूफा का उपयोग नहाने में करता है। इतना ही नहीं गांव के लोग इसका उपयोग बर्तन धोने और कपड़े रगड़ने के लिए करते है। लूफा में कई तरह के औषधीय गन पाए जाते है। यही कारण है की इसको गद्दे भरने में भी उपयोग में लाया जाता है। यही नहीं लूफा से ज्वेलरी, पेंटिग, पानी का फिल्टर करने और सजावट करने जैसे काम किए जाते है। सेना के जवानों के हेलमेट पर भी इससे पेंटिंग की जाती है।

किसानों के लिए बनेगा ये बिजनेस बंपर कमाई जरिया, जाने बिजनेस करने का बेस्ट तरीका

लूफा कैसे बनता है

सूखी तोरई बन गयी 'नेचुरल लूफाह', हजारों रूपये में हो रही बिक्री, जानें क्या  है इस्तेमाल

सुखी तोरई किसानों के लिए वरदान साबित हो सकती है। समय के साथ-साथ लोग आजकल पुराने ज़माने की चीजो को ज्यादा अहमियत दे रहे है। आज के समय में कई ऐसे भी लोग है जो तोरई का इस्तेमाल करके छोड़ चुके है। इस चीज का इस्तेमाल अब लूफा के जगह किया जाता है। तोरई को भी एक तरह से लूफा ही कहा जाता है। वर्त्तमान में भी पुराने ज़माने के लोग फाइबर या प्लास्टिक लूफा का इस्तेमाल ना करते हुए सुखी हुई तोरई का उपयोग किया जाता है।

यह भी पढ़े: हार्दिक पांड्या ने अपने बल्ले से मचाया कोहराम, ऐसी हार्ड हीटिंग जिसे देख कर रह जायेंगे दंग

इस बिजनेस से कितनी कमाई होगी

सूखी तोरई बेचकर अच्छी कमाई कर सकते हैं किसान - farmers earn money by  selling natural loofah

आपको बता दे की कनाडा की एक बहुत बड़ी कंपनी है जिसने सूखी तोराई की कीमत 25. 99 डॉलर रखी हुई है। कहने का मतलब यह है की भारतीय रूपए के अनुसार इस तोरई की कीमत 1819 रुपये है। कंपनी द्वारा इसका फायदा बताया है की यह तोरई पूरी तरह से ऑर्गेनिक होती है साथ ही इसके कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। सुखी तोरई का इस्तेमाल आज कल स्क्रबर के रूप में उपयोग बहुत ज्यादा बढ़ गया है। किसानो के लिए कमाई का यह बहुत ही अच्छा जरिया है। वैसे अगर देखा जाए तो इस बिजनेस के जरिए अच्छा मोटा पैसा कमाया जा सकता है। यह बहुत अच्छा बिजनेस है।

RELATED ARTICLES

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments