Homeफ़िल्मीजगतLata Mangeshkar Death Anniversary: सुरों की देवी और ‘स्वर कोकिला’ लता मंगेशकर...

Lata Mangeshkar Death Anniversary: सुरों की देवी और ‘स्वर कोकिला’ लता मंगेशकर की आज पुण्यतिथि, जानें उनकी कुछ खास बातें

Lata Mangeshkar Death Anniversary: सुरों की देवी और ‘स्वर कोकिला’ लता मंगेशकर की आज पुण्यतिथि, जानें उनकी कुछ खास बातें। सुरों की देवी और ‘स्वर कोकिला’ (Nightingale of India) लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) के निधन से हर किसी की आंखों में आंसू आ गए थे। आज उनकी पुण्यतिथि है। भले ही आज वो इस दुनिया में न हों लेकिन उनके सुपरहिट गाने लोग आज भी गुनगुनाते हैं। अपने गानों से उन्होंने दुनिया को प्यार करना सिखाया तो रुलाया भी है। इंसान की हर भावनाओं को उन्होंने अपने गानों में बखूबी पिरोया, लेकिन क्या आपको पता है कि लता मंगेशकर के जिन गानों को गाकर लोग अपने प्यार का इजहार करते हैं, वही लता अपनी पूरी जिंदगी में प्यार के लिए तरसती रह गईं।

यह भी पढ़े :UPSSSC Recruitment: सहायक लेखाकार और लेखा परीक्षक के 1800+ पदों पर निकली भर्तियों की भरमार, आवेदन की पूरी जानकारी पढ़े

इनके लिए धड़कता था लता मंगेशकर का दिल?

lata mangeshkar1

आपको बता दे कि लता मंगेशकर ने अजीवन शादी नहीं की। सूत्रों के अनुसार, एक समय था जब लता दीदी का दिल भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के पूर्व अध्यक्ष राज सिंह डूंगरपुर के लिए धड़कता था। राज सिंह राजस्थान के शाही परिवार से ताल्लुक रखते थे और डूंगरपुर के तत्कालीन राजा स्वर्गीय महारावल लक्ष्मण सिंहजी के सबसे छोटे बेटे थे। लता मंगेशकर और राज सिंह दोनों ही एक-दूसरे को पसंद करते थे लेकिन उनके प्यार को मुकाम नहीं मिल सका।

इस कारण से नहीं हो सकी थी शादी

रिपोर्ट के अनुसार, राज सिंह और लता मंगेशकर दोनों ही शादी का प्लान बना रहे थे लेकिन राज सिंह के पिता महारावल लक्ष्मण सिंह जी इस शादी के खिलाफ थे। इसके पीछे का कारण लता का शाही परिवार से नहीं होना था। महारावल लक्ष्मण सिंह नहीं चाहते थे कि उनके खानदान की बहू कोई आम लड़की बने। उनके इस फैसले ने राज सिंह डूंगरपुर और लता मंगेशकर के सपने को एक झटके में तोड़ दिया था। हालांकि दोनों ताउम्र दोस्त रहे।

सदाबहार गानों से बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

db5f23d3 da43 42e0 90bc 804013fd9d68

लता मंगेशकर के गाए हुए गाने मेरी आवाज ही पहचान है, लग जा गले, नाम गुम हो जाएगा… ऐसे तमाम गाने हैं, जो आज भी उनकी याद दिलाते हैं। उनके यही सदाबहार गाने हैं, जिन्होंने उनके नाम अनोखा रिकॉर्ड (Lata Mangeshkar World Record) दर्ज कराया। बीबीस और द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, साल 1974 के गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड ने अपने एडिशन में लता मंगेशकर का नाम सबसे ज्यादा गानों को रिकॉर्ड करने वाले आर्टिस्ट के तौर पर दर्ज किया था।

सच है कि महान आर्टिस्ट कभी मरते नहीं

लता मंगेशकर का निधन 6 फरवरी, 2022 को हुआ था। आज उनकी पुण्यतिथि है लेकिन यह भी सच है कि महान आर्टिस्ट कभी मरते नहीं बल्कि अमर हो जाते हैं। लता मंगेशकर भी हमेशा के लिए अमर हो चुकी हैं। भारत रत्न से सम्मानित सिंगर लता मंगेशकर का नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज था। उन्होंने अपने एक से बढ़कर एक गानों से गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। उनके नाम सबसे ज्यादा रिकॉर्ड किए गानों को गाने (Most recorded artist in History) का रिकॉर्ड दर्ज किया गया था।

यह भी पढ़े :Pakistan Election 2024: पाक‍िस्‍तान ने चुनाव के ल‍िए 54000 ‘पेड़ों’ का किया बलिदान, आर्थिक संकट का सामना कर रहा पाकिस्तान

उनकी ही छोटी बहन ने तोड़ा था रिकॉर्ड

Clipboard 2024 02 06T122718.068

आपको जानकर हैरानी होगी कि लता मंगेशकर के रिकॉर्ड को उनकी ही छोटी बहन और दिग्गज सिंगर आशा भोसले ने तोड़ा था। साल 2011 में आशा भोसले का नाम सबसे ज्यादा गाने रिकॉर्ड करने वाली सिंगर के तौर पर गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया था। साथ ही आधिकारिक रूप में बताया गया था कि उन्होंने 11,000 सोलो, डुएट और कोरस गानों को 20 से ज्यादा भाषाओं में गाया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments