Homeविदेशपीएम मोदी फ्रांस से पहुंचे आबूधाबी, राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल...

पीएम मोदी फ्रांस से पहुंचे आबूधाबी, राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से की महत्वपूर्ण चर्चा

पीएम मोदी फ्रांस से पहुंचे आबूधाबी, राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से की महत्वपूर्ण चर्चा। पीएम मोदी फ्रांस की दो दिनों की यात्रा के बाद सयुंक्त अरब अमीरात के अबूधाबी पहुंच गए हैं। अबू धाबी एयरपोर्ट पर पी एम मोदी का जोरदार स्वागत किया गया है। यहां पीएम मोदी ने द्विपक्षीय मुद्दों पर राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के साथ बैठक की इस एक दिन की इस यात्रा में दोनों देशों के बीच कई मुद्दों पर अहम समझौते भी किये जायेंगे।

यह भी पढ़े :बादल फटने से 7 युवक बहे, 4 की मौत, 3 की तलाश जारी

इस यात्रा में पी एम मोदी विशेष तौर पर ऊर्जा, खाद्य सुरक्षा और रक्षा क्षेत्रों पर बातचीत कर सकते हैं। दोनों देश व्यापार समझौते पर हुई प्रगति की समीक्षा करेंगे। इसके आलावा जी -20 को लेकर भी चर्चा होगी।

पीएम मोदी को दिया गार्ड ऑफ ऑनर अवॉर्ड

saudi 24 1485264854

आपको बता दे कि पूरे यूएई में पीएम मोदी का रंग चढ़ गया है. यूएई में प्रवासी भारतीय समुदाय की तादाद आबादी में 30 फीसदी है। पीएम मोदी के पहुंचने से पहले बुर्ज खलीफा पर राष्ट्रीय ध्वज को प्रदर्शित किया गया है।फ्रांस के दो दिनों के दौर के बाद पीएम मोदी अबू धाबी आए हैं। इससे पहले फ्रांस में उन्हें पेरिस के ओरली एयरपोर्ट पर गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया था । वहीं इस दौरान फ्रांस की Pm एलिज़ा बेथ बोर्न भी मौजूद रहीं थी आपको बता दें की गार्ड ऑफ़ ऑनर एक सम्मान होता है जो किसी भी देश के प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति के आगमन पर दिया जाता है। ये ऑनर सलामी के वक्त मुख्य अतिथि एक डायस पर खड़े रहते हैं। इसी के साथ प्रधानमंत्री मोदी को फ्रांस के सर्वोच्च सम्मान से भी नवाजा गया है। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रो ने पीएम मोदी को ग्रैंड क्रॉस ऑफ द लीजन ऑफ़ ऑनर से सम्मानित किया है।

यह भी पढ़े :भारतीय टीम के गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन ने रचा इतिहास, किया अपने नाम बड़ा रिकॉर्ड

पहले भारतीय प्रधानमंत्री बने जिन्हे यह अवॉर्ड मिला

पी मोदी ऐसे पहले भारतीय प्रधानमंत्री बने हैं जिन्हे ये सम्मान मिला है। ग्रैंड क्रॉस ऑफ़ द लीजन ऑफ़ ऑनर फ्रांस का सैन्य और सिविल दोनों ही क्षेत्रों में सबसे बड़ा सम्मान है। ये सम्मान प्रतिष्ठित हस्तिओं को दिया जाता है जिनकी वैश्विक मंच पर एक मजबूत झलक दिखती है। अभी तक ये अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला, जर्मनी की पूर्व चांसलर एंजेला मार्केल एवं पूर्व सयुंक्त राष्ट्र महासचिव बोट्रास घाली को दिया गया है। पीएम मोदी ने यहां पर भारतीय समुदाय को सम्बोधित भी किया था एम मोदी पेरिस में बैस्टिल डे परेड में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे। इस परेड में भारत की तीनों सेना की टुकड़ियां भी शामिल हुईं थी। राष्ट्रपति मैक्रो के साथ द्विपक्षी वार्ता के दौरान कई डिफेन्स डील पर मुहर भी लगी ।

RELATED ARTICLES

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments